2 Oct 2017

5 Best Bewafa Sayeri And Dard Sayeri Collection

Bewafa sayeri collection


 

Ye mat puchhna kis kis ne dhokha diya


Jakhm jab mere seene ke bhar jaayeinge
Aansu bhi moti bankar bikhar jaayeinge
Ye mat puchhna kis kis ne dhokha diya
Warna kuchh apno ke chehre utar jaayeinge

 

 

ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे।

________________________________________

 

Jaane waale to chhod ke chale jaate hain


 

Gulaab to tut kar bikhar jaata hai
Par khushbu hawa me barkrar rahti hai
Jaane waale chhod ke chale jaate hain
Par ahsaas to dilon me barkraar rahti hai

 

 

गुलाब तो टूट कर बिखर जाता है;
पर खुशबु हवा में बरकरार रहती है;
जाने वाले तो छोड़ के चले जाते हैं;
पर एहसास तो दिलों में बरकरार रहते हैं।
___________________________________________

 

Main hun bewafa sabko bataaya usne


Dard hi sahi mere ishq ka enaam to aaya
Khaali hi sahi haathon me jaam to aaya
Main hun bewafa sabko bataaya usne
Yun hi sahi uske labon pe mera naam to aaya

 

 

दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया;
खाली ही सही हाथों में जाम तो आया;
मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने;
यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया।
___________________________________________

 

Dil tut kar bikharta hai es kadar


 

Ulfat ka aksar yahi dastoor hota hai
Jise chaaho wahi apne se door hota hai
Dil tut kar bikharta hai es kadar
Jaise koyi kanch ka khilouna chur chur hota hai

 

 

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है;
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है;
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर;
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है!
_________________________________________

आपको ये भी पसन्द आऐंगें-


Jinki mohabbat sachchi hoti hai

Tu bhi zaalim ho gayi

Jo bhool gaya use yaad mat karo

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता.._

_______________________________________

 

Dil ki baat har kisi ko bataaya nahin karte


Har baat me aansu bahaya nahin karte
Dil ki baat har kisi ko bataaya nahin karte
Log muthhi me namak le ke ghumte hain
Dil ke jakhm har kisi ko dikhaaya nahin karte

 

 

हर बात में आंसू बहाया नहीं करते;
दिल की बात हर किसी को बताया नहीं करते;
लोग मुट्ठी में नमक लेके घूमते है;
दिल के जख्म हर किसी को दिखाया नहीं करते।
___________________________________________

No comments:

Post a Comment